Revolution of 1857 in Rajasthan

Revolution of 1857 in Rajasthan

राजस्थान में 1857 की क्रांति

करांति के समय भारत के गवर्नर जनरल लॉर्ड कैनिंग थे ।
करांति की निश्चित तिथि :- 31 मई
करांति का तत्कालीन कारण :- चर्बी युक्त कारतूस
करांति का प्रतीक :- चपाती एवं कमल का फूल
करांति का वाहक :- साधु संत
भारत में क्रांति की शुरुआत :- 10 मई 1857 मेरठ से
भारत में क्रांति को प्रथम :- शहीद मंगल पांडे (34 वी रेजीमेंट बैरकपुर बंगाल )

 

क्रांति से पूर्व की स्थिति


G. G. - गर्वनर जनरल - लार्ड कैनिंग
L. G. G. - लेफ्टिनेट गर्वनर जनरल - लार्ड कॉलविन
A. G. G. - एजेन्ट टु गर्वनर - जॉर्ज पैट्रिक लोरेन्स
P.A. - पॉलिटिक्स ऐजेन्ट

 

राजस्थान उत्तर पश्चिम सीमा प्रांत में स्थित था जिसका मुख्यालय आगरा था।
राजस्थान का प्रथम A. G. G. :- मिस्टर लॉकेट
A.G.G. पद का गठन :- 1832
A. G. G. का मुख्यालय :- अजमेर
A. G. G. का ग्रीष्म कालिन मुख्यालय :- माउण्ट आबु
राजपूताने के प्रथम A.G.G. :- डेविड ऑक्टर लोनी

 

पॉलिटिकल ऐजेन्ट


1. मेकमोसन :- मारवाड
2. J.D. हॉल :- सिरोही
3. शोवर्स :- उदयपुर
4. बर्टन :- कोटा
5. ईडन :- जयपुर
6. मॉरीसन :- भरतपुर
7. निक्सन :- धौलपुर
राजस्थान में कुल 19 देशी रियासते थी 3 ठिकाने एवं केंद्र शासित प्रदेश था।
अजमेर - मेरवाड़ा का प्रशासन कर्नल डिक्शन के नियंत्रण में था

 

सैनिक छावनीया :- 6

टरिक:- ए ननी ब्याव देखै

 

1. एरिनपुरा :- मारवाड

2. नसीराबाद :- अजमेर
3. नीमच :- मध्यप्रदेश
4. ब्यावर :- अजमेर
5. देवली :- टोंक
6. खैरवाडा :- उदयपुर

बयावर और खेरवाड़ा ने क्रांति में भाग नहीं लिया
सनिक छावनीयो में 5000 सैनिक थे जिसमें से सभी सैनिक भारतीय थे

राजस्थान में चार अंग्रेज एजेंसियां थी
1. पश्चिमी राजपुताना एजेंसी :- एरिनपुरा
2. दक्षिणी राजपुताना एजेंसी :- खैरवाडा
3. पूर्वी राजपुताना एजेंसी :- कोटा
4. जयपुर राजपुताना एजेंसी :- जयपुर

राजस्थान में सैनिक बटालियन

1. अजमेर मेरवाड़ा :- 1822 ई. (अजमेर)
2.जोधपुर लीजन :- 1835 ई. ( एरिनपुरा )
3. मेवाड भील कोर :- 1841 ई. ( खेरवाडा )
4. शेखावाटी ब्रिग्रेड :- 1834 ई. ( झुन्झुनू )

1857 क्रांति की घटना

1. नसीराबाद ( 28 मई 1857 ) अजमेर
2. नीमच ( 3 जून 1857 ) m.p
3. देवली ( 4 जून 1857) टोंक
4. एरिनपुरा ( 21 अगस्त 1857 ) मारवाड
5. कोटा ( 15 अक्टुबर 1857 ) कोटा

Switch Theme