आयुष्मान भारत योजना या प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना

Note: इस योजना का लाभ लेने के लिए कोई पैसा खर्च करने की ज़रुरत नहीं है |

आयुष्मान भारत योजना या प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) या राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना या मोदीकेयर भारत में MoHFW के आयुष्मान भारत मिशन के तहत 2018 में शुरू की गई एक केंद्र प्रायोजित योजना है। इस योजना का उद्देश्य प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक देखभाल प्रणालियों में हस्तक्षेप करना, निवारक और संवर्धित स्वास्थ्य दोनों को कवर करना है, स्वास्थ्य सेवा को समग्र रूप से संबोधित करना है। यह दो प्रमुख स्वास्थ्य पहलों स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रोंर राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (NHPS) की एक छतरी है।

  1. सरकार रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान करती है। 5,00,000 प्रति परिवार प्रति वर्ष।
  2. देश भर में 10.74 करोड़ से अधिक गरीब और कमजोर परिवार (लगभग 50 करोड़ लाभार्थी) शामिल हैं।
  3. निर्धारित मानदंडों के अनुसार SECC डेटाबेस में सूचीबद्ध सभी परिवारों को कवर किया जाएगा। परिवार के आकार और सदस्यों की उम्र पर कोई टोपी नहीं।
  4. बालिकाओं, महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को प्राथमिकता।
  5. जरूरत के समय सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज उपलब्ध है।
  6. माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती है।
  7. सर्जरी, चिकित्सा और दिन देखभाल उपचार, दवाओं की लागत और निदान को कवर करने वाले 1,350 मेडिकल पैकेज।
  8. पहले से मौजूद सभी बीमारियों को कवर किया। अस्पताल इलाज से इनकार नहीं कर सकते।
  9. गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं के लिए कैशलेस और पेपरलेस एक्सेस।
  10. अस्पतालों को उपचार के लिए लाभार्थियों से कोई अतिरिक्त धनराशि वसूलने की अनुमति नहीं होगी।
  11. योग्य लाभार्थी भारत भर में सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं, जो राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी का लाभ प्रदान करते हैं। 24X7 हेल्पलाइन नंबर – 14555 पर सूचना, सहायता, शिकायत और शिकायत के लिए पहुंच सकते हैं

कैसे होगा चयन?

इस योजना के तहत 10 करोड़ परिवारों का चयन 2011 की जनगणना के आधार पर किए जाने का अनुमान है। आधार नंबर से परिवारों की सूची तैयार की गई है और आपको सुविधा का लाभ मिलेगा। सूची तैयार होने के बाद तब इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी पहचान पत्र की जरूरत नहीं होगी।

कैसे पता चलेगा आपका आपका रजिस्ट्रेशन हो गया?

वर्ष 2011 की जनगणना में गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को इसमें जगह मिलेगी। योजना में आपका नाम है या नहीं यह आप http://mera.pmjay.gov.in पर चेक कर सकते हैं। सबसे पहले आप इस वेबसाइट पर जाए। यहां होम पेज पर एक बॉक्स मिलेगा। इसमें मोबाइल नंबर डाले। उस पर ओटीपी आएगा। इसे डालते ही पता चल जाएगा कि आपका नाम इसमें जुड़ा है या नहीं।

इसके अलावा लोग 14555 पर कॉल कर यह पता कर सकते हैं कि उनका नाम इस योजना में जुड़ा है या नहीं। लोग पास के अस्पतालों में जाकर भी यह पता कर सकते हैं कि उनको इस योजना का लाभ मिलेगा या नहीं।

अस्पताल में कैसे मिलेगा लाभ

मरीज को अस्पताल में भर्ती होने के बाद अपने बीमा दस्तावेज देने होंगे। इसके आधार पर अस्पताल इलाज के खर्च के बारे में बीमा कंपनी को सूचित कर देगा और बीमित व्यक्ति के दस्तावेजों की पुष्टि होते ही इलाज बिना पैसे दिए हो सकेगा। इस योजना के तहत बीमित व्यक्ति सिर्फ सरकारी ही नहीं बल्कि निजी अस्पतालों में भी अपना इलाज करवा सकेगा। निजी अस्पतालों को जोड़ने का काम शुरू हो चुका है। इसका यह लाभ भी मिलेगा कि सरकारी अस्पतालों में अब भीड़ कम होगी। सरकार इस योजना के तहत देशभर में डेढ़ लाख से ज्यादा हेल्थ और वेलनेस सेंटर खोलेगी जोकि आवश्यक दवाएं और जांच सेवाएं निःशुल्क मुहैया जाएंगे।

बिना आधार के मिल पाएगा लाभ

आयुष्मान भारत योजना के लिए आपको आधार कार्ड की आवश्यकता नहीं। सुप्रीम कोर्ट के अनुसार किसी भी सरकारी स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको आधार कार्ड की जरूरत नहीं है।

कौनसी बीमारी का इलाज करवा सकेंगे

इस योजना के तहत मैटरनल हेल्थ और डिलीवरी की सुविधा, नवजात और बच्चों के स्वास्थ्य, किशोर स्वास्थ्य सुविधा, कॉन्ट्रासेप्टिव सुविधा और संक्रामक, गैर संक्रामक रोगों के प्रबंधन की सुविधा, आंख, नाक, कान और गले से संबंधित बीमारी के इलाज के लिए अलग से यूनिट होगी। बुजुर्गों का इलाज भी करवाया जा सकेगा।

Key features of PM-JAY

  1. a. Provides hospitalisation cover of up to Rs. 5,00,000 per entitled family per year.
  2. b. More than 10.74 crore poor and vulnerable families (approximately 50 crore beneficiaries) covered across the country.
  3. c. Entitlement based scheme. No formal enrolment process is required.
  4. d. Poor, deprived rural families and identified occupational category of urban workers’ families as per the latest Socio-Economic Caste Census (SECC) 2011 data, both rural and urban will be covered. In addition, all enrolled families under Rashtriya Swasthaya Bima Yojana (RSBY) that do not feature in the targeted groups as per SECC data will be included as well.
  5. e. No cap on family size and age of members. All members of designated families get coverage; specifically, girl child and senior citizens.
  6. f. Covers secondary and tertiary care hospitalization.
  7. g. Free treatment available at all public and empanelled private hospitals.
  8. h. Cashless and paperless access to quality health care services.
  9. i. Benefits of national portability. Eligible beneficiaries can avail services across India.
  10. j. 1,350 medical packages covering surgery, medical and day care treatments, cost of medicines and diagnostics.
  11. k. All pre-existing diseases covered.
  12. l. To check eligibility, beneficiaries can contact the helpline (14555/1800111565), visit nearest Common Service Centres (CSC) or logon to https://mera.pmjay.gov.in. This can also be checked at empanelled hospitals.

Follow and tag PM-JAY in all the social media updates: Twitter: @AyushmanNHA, Facebook: @AyushmanBharatGOI

You may also like...